You are currently viewing भारतीय बाजार में कम हो रहा चीनी कंपनियों का दबदबा, स्मार्टफोन, टीवी और घड़ी सबकी घटी डिमांड

भारतीय बाजार में कम हो रहा चीनी कंपनियों का दबदबा, स्मार्टफोन, टीवी और घड़ी सबकी घटी डिमांड


Chinese company market share: एक समय ऐसा था जब भारत में चीनी कंपनियों का दबदबा था. स्मार्टफोन हो, स्मार्ट टीवी हो या फिर छोटी सी घड़ी, सभी सेगमेंट में चीनी कंपनियां टॉप पर थी. लेकिन अब सरकार के मेड इन इंडिया और लोकल मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के बाद तस्वीर बदल रही है. चिनी कंपनियों का मार्केट शेयर हर सेगमेंट में कम हो रहा है. स्मार्टफोन, टीवी, स्मार्टवॉच आदि सभी में दूसरी कंपनियां आगे निकल रही हैं और चीन की हिस्सेदारी कम हो रही है. ET की रिपोर्ट के मुताबिक, स्मार्ट टीवी सेगमेंट में चीनी कम्पनियों का मार्किट शेयर कम हो रहा है और LG और सैमसंग जैसे ब्रांड टॉप में आ रहे हैं.

मार्केट रिसर्चर काउंटरपॉइंट टेक्नोलॉजी की लेटेस्ट रिपोर्ट से पता चलता है कि टीवी शिपमेंट में चीनी ब्रांडों की हिस्सेदारी अप्रैल-जून तिमाही में गिरकर 33.6% हो गई, जो एक साल पहले इसी अवधि में 35.7% थी. इंडस्ट्री एक्सपर्ट्स का कहना है कि आने वाले समय में चीनी कंपनियों की हिस्सेदारी और कम होगी और ये 28 से 30% पर आ सकती है. रिपोर्ट में इंडस्ट्री एक्सपर्ट्स के हवाले से ये भी कहा गया है कि आने वाले समय में Oneplus और Realme स्मार्ट टीवी मार्केट से निकल सकते हैं और भारत में अपने कारोबार पर ताला या प्रोडक्शन को एकदम कम कर सकते हैं.

क्यों लोगों को पसंद नहीं आ रहे चीनी टीवी?

चीनी कंपनियों के शिपमेंट में गिरावट का कारण सैमसंग, एलजी और सोनी के मिड-सेगमेंट और प्रीमियम मॉडलों के लिए यूजर्स की बढ़ती पसंद है. सैमसंग और एलजी ने अपने एंट्री मॉडल्स का दाम भी भारत में कम किया है जिसकी वजह से लोग इन्हें पसंद कर रहे हैं. सैनसुई और एसर जैसे अन्य ब्रांड भी टीवी सेगमेंट में अच्छा परफॉर्म कर रहे हैं और लोगों की जरूरत के हिसाब से टीवी को अपग्रेड कर रहे हैं.

स्मार्टफोन मार्केट में भी घटी हिस्सेदारी

स्मार्टफोन मार्केट की बात करें तो यहां चीनी कंपनियों का हाल और बूरा है. पिछले 4 तिमाहियों से चीनी कंपनियां जैसे शाओमी, वीवो, ओप्पो, वनप्लस आदि सभी अपनी हिस्सेदारी खो रहे हैं. पहले एंट्री लेवल स्मार्टफोन (7 से 8 हजार के बीच) में शाओमी का दबदबा था लेकिन अब कंपनी रेस में काफी पीछे हो चुकी है. हालांकि स्मार्ट टीवी के मुकाबले अभी भी स्मार्टफोन सेगमेंट में चीनी कंपनियां ठीक परफॉर्म कर रही है लेकिन डिमांड लगातार कम हो रही है, साथ ही एक्सपोर्ट भी घट रहा है.

यह भी पढ़ें:

Motorola Edge 40 Neo की लॉन्चिंग आज, इस कीमत पर खरीद पाएंगे दुनिया का सबसे हल्का 5G फोन 



Source link

Leave a Reply